फट गई मेरी बुर 2

Fat gai meri but-2

मेरे लण्ड अभी भी दर्द कर रहा था। मैंने उसको बताया तो उसने मुझे सॉरी बोला…

फिर कुछ देर बाद हम लोग मूवी छोड़ कर बाहर आ गए।

उसने मुझे कहा – चलो, किसी होटल में चलते हैं!!!

बहुत देर बाद बड़ी मुश्किल से एक होटल मिला। मैंने होटल वाले से सिर्फ तीन घंटे के लिए रूम माँगा और वो रूम देने के लिए राजी हो गया…

हम दोनों जैसे ही कमरे में पहुँचे, वो बाथरूम में चली गई। वापस आई तो वो थोड़ा फ्रेश महसूस कर रही थी।

आते ही उसने मुझसे बोला – आई लव यू!!!

मैंने भी जबाब दे दिया… फिर उसने कहा – मेरे पास सिर्फ तीन घंटे है, इस तीन घंटे में तुम मुझे इतना प्यार करो मैं अपने आप को भूल जाऊँ!!! !!

मैंने कहा – ठीक है… लेकिन तुम्हें मेरा पूरा साथ देना होगा!!

उसने तुरंत मान लिया!!

रूम में थोड़ी गरमी थी तो उसने कहा – गरमी बहुत है, तुम अपने कपडे उतार लो!!

मैंने भी फ़ौरन अपना जीन्स और शर्ट उतार लिया।

अब वो बेड पर लेट गई और मैं भी उसके बगल में जाकर लेट गया!!

फिर वो मेरे बालो को सहलाने लगी और मैं उसके बदन पर अपना हाथ चलाने लगा। अचानक वो जोर से मुझ से लिपट गई और किस करने लगी!!!

मैं भी उसके होंठों को चूसने लगा और हम दोनों एक दूसरे के मुँह में जीभ डालकर एक दूसरे के होंठ चूसने लगे!!

फिर मैं धीरे धीरे उसकी चूची को दबाने लगा। इधर वो बेतहाशा मुझे चूम रही थी…

कुछ देर बाद, मैंने उसको अपने से अलग किया और उसके कपडे उतारने लगा… …

वो बार बार मुझसे लिपटी जा रही थी। किसी तरह मैंने उसके सारे कपडे उतार दिए!!!

लग रहा था, जैसे चाँद उतार कर मेरे सामने खड़ा हो गया हो!!! मुझे तो अब होश ही नहीं था…

भगवान ने बड़ी फुर्सत से उसे बनाया था!! मस्त पतली कमर… छोटे छोटे चूचे… फूली हुई बुर… केले जैसी चिकनी जांघें और किसी गहरी घाटी की तरह नाभि!!!

फिर जैसे उसने मुझे सोते हुए से जगाया और बोला – अरे, कहाँ खो गए; तुम… ??

मैंने उसे जोर से पकड़ा और अपने सीने से लगा लिया!!

उसके बाद मैं उसकी चूची को जोर जोर से दबाने लगा और वो भी मेरा लण्ड को धीरे धीरे सहला रही थी!!

फिर मैंने उसे बेड पर लिटाया और उसके पूरे बदन पर किस करने लगा!!

वो आंखे बंद करके धीरे धीरे कराह रही थी। अब मैं उसकी चुचियों को दबाने और जोर जोर से चूसने लगा!!! !!

जैसे ही मेरा मुँह थोड़ी देर के लिए हटता; वो फिर से अपनी चूची मेरे मुँह में डाल देती थी!!

चूची चूसने के बाद मैं उसके पेट, कमर और फिर जांघ को चूमने लगा…

फिर उसके बाद मैंने अपना हाथ उसकी फूली हुई बुर पर रखा… जैसे ही मैंने ऐसा किया, वो मुझ से चिपक गई!!!

मैं धीरे धीरे उसकी बुर को सहलाने लगा।

उसके बाद उसने मुझे जोर से धक्का देकर मेरे अंडरवियर को फाड़ दिया और मेरा लण्ड निकाल किया…

अब वो जोर जोर से उसे पागलों की तरह किस करने लगी और चूसने लगी!!

मैंने भी उसे 69 की पोजीशन में कर कर अपने होंठों को उसके बुर पर रख दिया…

उसके बुर से तो जैसे आग निकल रही थी!! मैं मस्ती में उसकी बुर को चाट रहा था और वो मेरा लण्ड जोर जोर से चूस रही थी!!!

करीब दस मिनट के बाद उसने मुझे सीधा लिटाया और मेरे मुँह पर अपना बुर रखकर जोर जोर से आगे पीछे करने लगी और चिल्लाने लगी आज मेरी बुर की आग को बुझा दो… … नहीं तो, मैं मर जाउंगी…

यह कहानी आप HotSexStory.xyz में पढ़ रहें हैं।

मैंने उसके बुर को जोर से चूसना चालू किया और कुछ देर के बाद मुझे लगा कि वो अपना बुर मेरे मुँह में पूरा घुसा देगी!!!

फिर कुछ ही देर बाद उसने जोर जोर से झड़ना चालू कर दिया… मेरा पूरा मुँह उसके पानी से भर गया!!

फिर उसके बाद वो उतर गई और मेरा मुँह साफ करने लगी। मैंने उसकी आँखों में देखा तो मुझे उसमे संतुष्टि नजर आई…

अब उसने मेरा लण्ड पकड़ कर अच्छे से साफ किया और जोर जोर से दुबारा चूसने लगी। इधर मैं उसकी गाण्ड को सहला रहा था!!

मेरा पानी निकलने वाला था तो मैंने कोशिश की अपना लण्ड उसके मुँह से निकालने की पर वो मानी नहीं और पूरा का पूरा पानी पी गई!!!

थोड़ी देर में वो फिर गरम हो गई और फिर से मेरे लण्ड को खड़ा करने लगी!!

कुछ देर में ही मेरा लण्ड पूरी तरह खड़ा हो गया तो वो बोली – अब मुझ से बर्दाश्त नहीं हो रहा है, अपना लण्ड मेरी बुर में डाल दो…

मैंने उसको लिटाया और टाँगें फेला कर उसके बुर के छेद पर अपना सूपड़ा रख दिया और घिसने लगा…

वो बार बार अपनी कमर हिलाने लगी। मैंने समझा, अब देर करना ठीक नहीं है और एक जोर का धक्का लगा दिया!!!

वो चिल्लाने लगी – फट गई मेरी बुर, मुझे नहीं चुदवाना है!! मैं प्यार से उसकी चूची सहलाने लगा और किस भी करने लगा…

धीरे धीरे वो नीचे से कमर उठाने लगी, तो मैंने उसे चोदना शुरू किया…

कुछ देर के बाद वो कहने लगी – चोद दो मुझे… अह्ह्ह्हह्ह… स्स्सीईईईईईईईईईईईईए… उफ्फफ्फ्फ्फफ्फ्क… चोद साले… फाड़ दे मेरी बुर… आ आ आ आ आ आ आह अह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह…

यह सब सुनकर में भी जोश में आकर पूरी स्पीड से उसे चोदने लगा!!! !!

15 मिनट चोदने के बाद उसका निकलने वाला था, उसने जोर से मुझे काटना शुरू कर दिया और चिपक कर झड़ने लगी…

दो चार धक्को के बाद मैंने कहा – मैं आने वाला हूँ!!

उसने हाथ फैला कर मुझे बाहों में जकड लिया और मैं उसके बुर में ही झड़ गया… …

उसके बाद हमने कपडे पहने और अपने अपने घर आ गए!! !!!

जैसा की आपको बताया था; दोस्तो, ये मेरी सच्ची कहानी है!!! !!

अगर कुछ गलत हो तो, माफ करना…

अपने विचार मुझे निम्न पते पर भेजें –

मैं आपके जबाब के इंतज़ार में हूँ ।

आपका अपना
शुशान्त

अगर आपको हमारी साइट पसंद आई तो अपने मित्रो के साथ भी साझा करें, और पढ़ते रहे प्रीमियम कहानियाँ सिर्फ HotSexStory.xyz में।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *