Skip to content

मौसा जी ने रात भर चोदा सुबह चल भी नहीं पा रही थी।

[ad_1]

Indian Girl Teen Sex Story, First time Sex Story, Virgin Girl ki Chudai, Mausa ji Sex Story : आज मैं अपनी सेक्स कहानी सुनाने जा रही हूँ। ये सेक्स कहानी मेरे और मेरे हॉट सेक्सी मौसा जी के साथ है। उन्होंने मुझे पूरी रात चोदा मेरी सील तोड़ दी। ऐसा हुआ की मैं सुबह चल भी नहीं पा रही थी। बड़ी मुश्किल हो रही थी उठने बैठने चलने में। आज दिन भर सोच रही थी की मैं ये कहानी लिखूं की नहीं। कभी लगता था लिख दूँ कभी लगता था नहीं लिखूं। पर शाम को मैंने सोच लिया की मेरे साथ जो हुआ आज नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर लिख कर ही रहूंगी।

मुझे बहुत ही अच्छा लगा पूरी रात जब मेरी चुदाई हो रही थी। पर अभी मेरी उम्र छोटी है उतना चुदने लायक नहीं है जितना मुझे पूरी रात चोदा गया, सच तो ये बात है की मेरी मम्मी भी यही चाहती थी की मैं फूफा जी से चुदुँ ताकि मेरी ज़िंदगी बन जाये। जब आप मेरी पूरी कहानी पढ़ेंगे तभी आपको समझ आएगा की आखिर मम्मी ऐसा क्यों सोचती है और मम्मी ने ही ऐसा क्यों किया और क्या किया ताकि मौसा जी मुझे चोद दे। अब मैं सीधे अपनी कहानी पर आती हूँ।

नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम की मैं बहुत बड़ी फैन हूँ। जब से मेरी चूचियां बढ़ने शुरू हुए थे और जब से मेरी चूत में बाल आना शुरू हुआ था तभी से ही मैं इस वेबसाइट पर सेक्स कहानियां पढ़ती हूँ। और जब कहानी पढ़ती हूँ तब मैं खुद ही अपनी चूचियां दबाती हूँ और अपनी चूत को सहलाती हूँ।

मैं अपनी उम्र नहीं बताउंगी और सही पता भी नहीं बताउंगी। क्यों की मैं एक फेमस टिकटॉक स्टार हूँ पर जब से इंडिया में टिकटॉक बंद हुआ तब से मैं अपनी ज़िंदगी ऐसी जगह ले जाना चाहती हूँ जहा पर पैसा और इज्जत मिले। तो मेरी मम्मी और मैं दोनों मिलकर गाँव से दिल्ली आने की सोची। ताकि दिल्ली में रहकर पढाई कर सकूँ। पापा मेरे ज्यादा नहीं कमाते हैं और मेरी मम्मी से ज्यादा उनका बनता भी नहीं है इसलिए वो अकेले ही दूसरे शहर में रहते है। और मैं और मेरी मम्मी दोनों गाँव में रहते हैं। पर आपको भी पता है गाँव में रहकर कुछ भी नहीं हो सकता तो दिल्ली अपने मौसा जी के पास आने की सोची।

मौसा जी अभी अकेले ही हैं दिल्ली में मेरी मौसी भी कंपनी के काम से एक साल के लिए विदेश गयी है। अभी उन दोनों का कोई बच्चा भी नहीं है। तो मेरी माँ जब मौसी से व्हाट्सप्प कालिंग कर सब बात बताई की मैं ये सब करना चाहती हूँ तो वो बोली ये तो बड़ी अच्छी बात है। दिल्ली से चले जाओ और वहां मौसा जी है वो काफी कुछ करवा देंगे एडमिशन भी करवा देंगे। तो जब मैं अकेली आने लगी दिल्ली तो मेरे पापा मना कर दिए की अकेली नहीं जाएगी। इसपर भी मेरी मम्मी और पापा में काफी ज्यादा लड़ाई हूँ।

आखिरकार फैसला हुआ की मम्मी भी साथ जाएगी। मम्मी ऐसे भी मौसा जी को काफी ज्यादा पसंद करती है। वो तो ख़ुशी ख़ुशी जाने को तैयार हो गयी। और माँ बेटी दोनों दिल्ली पहुंच गए अपने सपनो को लेकर, ज़िंदगी में आगे बढ़ने को सोचकर। तो मम्मी मुझे ट्रैन पर भी बोल दी। देख बेटी ज़िंदगी में आगे बढ़ना चाहती है तो अभी मौक़ा मिला है तेरा बाप तेरे लिए कुछ भी नहीं किया ना करेगा। मैं बिलकुल अकेली हूँ। मुझे लगता है तू मेरे सपनों को पूरा करोगी।

दिल्ली पहुंच गए मैं माँ बेटी, ज़िंदगी की नई शुरुआत हो गयी। मौसा जी घर से ही काम करते थे। अच्छे पोस्ट पर थे एक सॉफ्टवेयर कंपनी में पैसा भी खूब है घर देखकर ही और रहन सहन देखकर ही लग रहा था। दो से तीन दिन में ही अच्छे से घुल मिल गए बहोत ज्यादा फ्रैंक हैं मम्मी भी खुश मैं भी खुश। तो मम्मी इसी संडे को बैठकर मौसा जी से अपनी सभी बात को रखी की मेरे पापा कुछ नहीं करते हैं और मैं अपनी बेटी को बहुत आगे बढ़ाना चाहती हूँ इसी उम्मीद से आई हूँ ताकि हम दोनों की ज़िंदगी बदल जाये।

मौसा जी मेरा एडमिशन करवा दिए और बोले अब मैं तुमको जैसा जैसा कहता हूँ वैसा ही करो। मैं पढ़ाई करने लगी और मम्मी मौसाजी का घर संभाल ली। मैं देर रात तक पढ़ती मौसा जी मुझे बताते थे क्या करने है कैसे करने हैं। कंप्यूटर साइंस में बीटेक करने लगी। तो मौसा जी पहले से आईआईटी से पासआउट हैं। मौसी भी मेरी कंप्यूटर से ही पढ़ाई की है।

माँ ने मौसा जी का खूब ध्यान रखने लगी, और मुझे भी कहती ये समझ की तेरे मौसा जी ही सब कुछ है इनके अलावा कुछ नहीं। तो कभी भी किसी चीज के लिए मना नहीं करना वो जो चाहते हैं वो करना। क्यों की जब तक तुम कुछ दोगी नहीं सामने वाला भी कुछ नहीं देगा। इसलिए ध्यान रखना पहले मुझे ये सब बात समझ नहीं आ रहा था वो रोज समझाती थी पर मुझे लगता था कुछ और। एक दिन मौसा जी मेरे जांघ पर हाथ रख दिए और सहलाने लगे। तो मैंने कह दिया की ऐसा मत कीजिए।

पर जब यही बात मैंने अपनी माँ को बोली तो वो तुरंत ही कह उठी तुमने सब कुछ खराब कर दिया। उन्होंने अगर जांघ पर हाथ रखे तो तुम्हे हटाने को कहने की क्या जरुरत थी। यही बात मैं तुम्हे रोज समझा रही हूँ। पर तुम्हे समझ नहीं आता है। मैं समझ गयी मेरी माँ क्या चाहती है और मेरे मौसा जी क्या चाहते हैं। मम्मी बोली अब तुम्हे ही ये सब ठीक करना है। एक काम करना मैं दो दिन के लिए गुड़गांव जाती हूँ। वह मेरी एक सहेली रहती हूँ कल ही फ़ोन आया था। तो तुम यहीं रहना और ठीक करना जो तुमने गलती की।

माँ चली गयी घर में मैं और मौसा जी। रात को जब मैं उनके कमरे में गयी तो वो पेग बना रहे थे। मैंने जाकर कहा सॉरी तो उन्होंने कहा की किस बात का तो मैंने कह दिया कल मैंने जो आपको मना कर दिया था हाथ फेरने उसके लिए। तो मौसा जी बोले तो क्या तुम्हे अब खराब नहीं लगेगा? मैंने सर को को हिला कर कह दिया नहीं लगेगा।

इतना सुनते ही मौसा जी अपने पास बैठा लिए और बोले अभी छोटी है समझ जाएगी लाइफ में आगे बढ़ने के लिए कम्परमाईज करना होता है। मैंने तुम्हारे लिए कितना कुछ कर रहा हूँ पर तुमने तो कल मेरा हाथ ही हटा दिया। मैंने कहा अब ऐसा नहीं होगा। मौसा जी दो पेग पी गए जल्दी जल्दी और मुझे अपनी और खींच कर गोद में बैठा लिया।

मेरे होठ पर पहले उँगलियाँ फेरी। फिर मेरी छोटी छोटी चूचियों को अपने हाथों से महसूस करने लगे की क्तिना बड़ा है है। और फिर हौले हौले से दबाने लगे। मेरे गाल पर किस करते हुए मेरे गर्दन तक गए फिर मेरे कान को दाँतों से दबाये की मेरी हालत ख़राब होने लगी। मेरी धड़कन तेज हो गयी।

मैं भीगी बिल्ली की तरह उनके गोद में थी और वो मेरे जिस्म को सहला रहे थे। मेरी चूचियों को मसल रहे थे मेरी जाँघों को गांड को टटोल रहे थे। ओह्ह्ह्हह्हह क्या बताऊँ दोस्तों मैं अपना होशो हवस खो रही थी मेरी अन्तर्वासना जाग गयी थी। अब मैं भी उनके तरफ आकर्षित होते हुए उनके होठ को चूसने लगी। उन्होंने मुझे अपनी और खींच लिया मेरे होठ को चूसने लगे मैं भी चूसने लगी। दोनों एक दूसरे को चूस रहे थे।

दोनों एक दूसरे को सहला रहे थे। उन्होंने मेरे कपडे उतार दिए। बोले ओह्ह्ह्हह्हह माय गॉड क्या चीज हो तुम ऐसी सेक्सी लड़की कभी नहीं देखि। ओह्ह्ह्हह्ह्ह्ह क्या भगवान ने बनाया है तेरे जिस्म को। मैं बेड पे लेट गयी उन्होने मुझे ऊपर से देखा। और फिर मेरे होठ से शुरू करने मेरे पैर की ऊँगली तक को चाट गए। मेरी चूचियों को पीने लगे। मेरी गांड में ऊँगली करने लगे।

ओह्ह्ह्ह मैं भी होशोहवास हो दी और टाँगे फैला दी। उन्होंने मरे चूत को चाटना शुरू किया और फिर दोनों पैरों को अलग अलग कर के अपना मोटा लौड़ा मेरी चूत की छेद पर लगाया। और फिर घुसाने लगे। भला उतना मोटा लौड़ा कैसे जाता इतनी पतली छेद में उसपर से मैं वर्जिन कभी चुदी नहीं थी। मेरा ये पहला एहसास था। मुझे अच्छा लग रहा था पर डर भी लग रहा था मुझे।

उन्होंने लंड घुसाने की कोशिश करते तो मैं अपना गांड पीछे खींच लेती क्यों की चूत फटने का डर था। ऐसा मैंने कई कहानियां में पढ़ी थी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर की चूत से खून निकल जाता है पहली बार चुदाई करने पर। उन्हने जोर से धक्के दे दिए पूरा लंड मेरी चूत में घुस गया मैं कराह उठी डर गयी क्यों की मेरी चूत से खून निकलने लगाए था। पर वो मेरी छोटी छोटी चूचियों को दबोचते हुए जोर जोर से धक्के देने लगाए मुहे चूमने लगे मुझे किश करने लगे।

उन्होंने अपनी तरफ खींच कर मेरी गांड को दोनों तरफ से पकड़ा और जोर जोर से अपनी तरफ खींच खींच कर चोदने लगे। करीब दस मिनट तक तो दर्द हुया पर अब मैं भी जोश में आ गयी। और मैं भी चुदवाने लगी। ओह्ह्ह्हह्हह पूरी रात मुझे चोदा उन्होंने खूब मजे ली मेरी चूत फटी विर्जिनिटी खो दी।

दोनों नंगे ही सो गए। एक दूसरे को पकड़ कर। उन्होंने मुझसे कहा अब तुम्हे कोई रोक नहीं सकता आगे बढ़ने ऐसे मैं तुम्हे आगे बढ़ाऊंगा और तुम रानी बनेगी आगे चलकर। सुबह उठी तो चल नहीं पा रही थी क्यों की दर्द हो रहा था चूत में जांघ में चूचियाँ भी काफी दर्द कर रहा था। पर मेरी पहली चुदाई का मजा कुछ और ही था। मजा आ गया। अब तो रोजाना चुदुँगी।

आये दिन देखना मेरी मम्मी भी मौसा जी के साथ जरूर सेक्स करेगी। अगर ऐसा हुआ तो जल्द ही आपको उनकी भी कहानी इसी वेबसाइट पर पढ़ने को मिलेगी।

[ad_2]

Source link

Related posts:

ट्यूशन देकर बच्चे की खूबसूरत माँ को चोदा, Sex Story, Sex Kahani
अंकल जी ने मुझे और मेरी माँ को एक साथ चोदा
ब्लू आइज़ हिप्नोटाइज़ तेरी करती है मैनू
सास की चुदाई, दामाद और सास की सेक्स कहानी हिंदी मैं
रेनू भाभी की चुदाई, Sex Story, सेक्स कहानी
आज मैं सेक्स करना चाहती हूँ क्या आप मुझे चोदोगे 75 साल की अम्मा बोली
hot sex story, chudai ki story, xxx kahani hindi
पति की नामर्दी के कारण भाई साहब से चुदाई करवाई
नींद मे मा की चुदाई
मायके से ससुराल लौटते ही पति ने मुझे लंड पर बिठाकर चोदा
परसों रात बारिश में छत पर दोनों बहनो को चोदा फूफा जी ने
क्या मैं अपनी बेटी की ज़िंदगी उजाड़ रही हु? दामाद से चुदवाकर प्लीज बताएं
सुहागरात की ट्रेनिंग के बहाने भाई ने चोदा मुझे
Papa ne choda Maa Samajh ke
नये साल मे भाभी की चुदाई का नया तोहफा, Sex Story, Sex Kahani
Didi ko gand marne ki story, Sex Story, चुदाई कहानी, हिंदी सेक्स कहानियां

Leave a Reply

Your email address will not be published.