Daily news update

मेरी बेटी का बॉयफ्रेंड आज मुझे चोद कर गया जानिये ये सब कैसे हुआ


बेटी का बॉयफ्रेंड मुझे चोदा, असंतुष्ट भाभी की सेक्स कहानी, असंतुष्ट ऑन्टी की चुदाई, Beti ka boyfriend sex story in Hindi, Chudai ki Sexy kahani, Hot sex story in Hindi with pic.

 यह मेरी पहली कहानी है नॉनवेज story.com पर इसके पहले मैं सिर्फ कहानियां पढ़ा करते थी।  पर आज मुझे भी मौका मिल गया अपनी वासना भरी कहानी आप लोगों के सामने सुनाने के लिए।  मेरी उम्र 40 साल है मेरा नाम राधा है।  मैं अपने पति से अलग रहती हूं नोएडा के एक फ्लैट में रहती हूं।  मेरी बेटी जिसका नाम नाम   स्वीटी है।  उसकी उम्र 18 साल है उसी का बॉयफ्रेंड आज मुझे चोद कर गया।  यह सब कैसे हुआ मैं आपको सारी बातें हैं इस वेबसाइट पर सच सच बताने जा रही हूं। 

 मेरी बेटी एक कॉलेज में पढ़ते हैं को हॉस्टल में रहते हैं हॉस्टल में रहकर भी बिगड़ गई है आजकल करो ना का टाइम है इसलिए वह घर पर ही आ गई है क्योंकि हॉस्टल वाले छुट्टी दे दिए हैं अभी। जिसकी  जो आदत होती है दोस्तों, कभी छोड़ नहीं सकता शायद मेरे बेटी का भी यही हाल है।  उसने भी ऐसा ही किया। 

 कल की ही बात है वह अपने बॉयफ्रेंड से बात कर रही थी कि कल तुम मुझे फ्लैट से मिलने आ जाना मैं तुम्हें अपने मम्मी से भी बात करा दूंगी और खाना भी खा कर तुम जाना।  मैं यह सब बातें सुन ली  पर मैं कुछ बोली नहीं।  दूसरे दिन सुबह ही   उसकी एक दोस्त है कोमोलिका उसका फोन आ गया कि आज हम लोग पार्टी कर रहे हैं तो तुम आ जाना।  मेरी बेटी स्वीटी कोमोलिका के घर ही चली गयी। 

वो अपने बॉयफ्रेंड को भी फ़ोन कर दी की आज वो घर नहीं आये। पर जब स्वीटी कमॉलिका के घर गई तो मैं खुद उसके बॉयफ्रेंड को फ़ोन की, तुम आज जाओ तेरे से बात करना है। स्वीटी भी नहीं है। इसलिए मुझे तुमसे कुछ पूछना है। तो उसका बॉयफ्रेंड जिसका नाम निखिल है।  वह आने को राजी हो गया।  उसने कहा कि मैं 1:00 बजे तक पहुंच जाऊंगा और वह अपने समय पर पहुंच गए क्या। 

 दोस्तों सच तो बात यह है कि मुझे उसे कुछ पूछना नहीं था मुझे उससे अपनी वासना को शांत करना था इसलिए मैं उसको बहाने से बुलाई थी पर जब बुला ले तो सोचे कि कुछ और भी पूछ लेते हो एक मां होने के नाते।  तो सबसे पहले मैं उसको यही पूछेगी क्या तुम मेरी बेटी स्वीटी को प्यार करते हो या बस इस्तेमाल कर रहे हो।  उसने कहा नहीं आंटी जी मैं स्वीटी से बहुत प्यार करता हूं। 

 तुम्हें बोली जब तुम प्यार करते हो तुम भी  छोटे हो और मेरी बेटी भी अभी बहुत छोटे हैं।  तुम ऐसा कुछ मत करना जिससे तुम दोनों की जिंदगी बर्बाद हो जाए।  मेरी बेटी से जब भी तुम कभी अकेले में मिलो तो किस तो कर लेना फिर कभी तुम सेक्स मत करना।  क्योंकि अगर तुम सेक्स कर लिए और तुमने कुछ तरीका नहीं अपनाया तो सोचो क्या होगा। 

 तुम दोनों जवानी के जोश में सही  तरीका नहीं अपनाकर कुछ और कर लो तो कई सारे दिक्कत का सामना तुम्हें करना पड़ सकता।  तू मुस्कुराने लगा और बोला  आप यह सब बात अपने मन से  निकाल दो ऐसा नहीं होगा।  हम दोनों मिल चुके हैं कई बार मिल चुके हैं।  और जब भी हमने कुछ किया तो प्रोटेक्शन इस्तेमाल करके ही किया। 

 मैं समझ गई यह बात तो मुझे पहले से ही पता था कि यह दोनों ओयो रूम में मिलते है और चुदाई करते है। पर आज मैं इससे चुदना चाहती थी। इसलिए मैं थोड़ा इधर-उधर की बात करने लगे ताकि इसको ऐसा ना लगे कि मैंने इसे सिर्फ  अपनी वासना को शांत करने के लिए बुलाया है। मैं कभी ऐसा नहीं चाहते थे कि वह उसकी भनक भी लगे।   तो मैं इधर-उधर की बात करने के बाद।  अपने दुपट्टे सरकाने लगी। मेरी बड़ी बड़ी चूचियां को देखर उसके मुँह में पानी आने लगा और लंड खड़ा होने लगा।

मैं साफ़ साफ़ देख रही थी की कैसे वो लड़का मेरी चूचियों को झाँक रहा था और मेरी जिस्म को निहार रहा था। मैं चाहती भी यही थी। धिरे धीरे मैं उसके करीब आ गयी। और उसका हाथ अपनी जांघ पर रखते हुए बोली। तुम उसको धोखा मत देना। उसने लड़खड़ाते हुए बातों से बोला नहीं नहीं मैं धोखा नहीं दुगना।

और मैं उसके करीब और आ गयी और उसके होठ को निहारने लगी। उसका होठ पिंक था। मैं अपने आप को रोक नहीं पाई और मैं उसके होठ पर अपना होठ रख दी। उसने भी कुछ नहीं बोला और हौले हौले से मेरे होठ को चूसने लगा। मैं उसका हाथ अपने बूब्स पर रख दी। मेरी बड़ी बड़ी चूचियां जो बहुत ही टाइट थी और बड़ी थी वो हौले हौले से सहलाने लगा।

मैं बोली जोर से दबाओ तो वो जोर से मसलने लगा। मैं वासना की आग में पूरी तरह से जलने लगी। मैं उसके कपडे उतारने लगी। वो बैठ गया मैं बेल्ट खोल दी तो उसने जीन्स खुद ही उतार दिया। मैं सोफे पर ही लिटा दी और जांघिया खोलकर उसके गोरे गोरे लंड को मुँह में ले ली।

ओह्ह्ह्हह मोटा गोरा लंड मुँह में लेके ऐसा लग रहा था की दूध वाला आइसक्रीम खा रही हूँ। उसके बाद उसने भी मेरे कपडे उतारने के लिए बोला। मैंने भी अपने कपडे उतार दिया ब्रा का हुक उससे ही खुलवाया। जैसे ही उसने ब्रा का हुक खोला मेरी बड़ी बड़ी चूचियां गेंद की भाँती बाहर निकल गया। ऐसा लगा की बंधा हुआ घोडा खुल गया हो। मेरी चूचियों को मसलने लगा और पीने लगा।

मैं नंगी हो गयी और उसके जिस्म से खेलने लगी। धीरे धीरे हम दोनों एक दूसरे के आगोश में आ गए। सोफे से उठकर बैडरूम में आ गयी। अब देर करना अच्छा नहीं लग रहा था इसलिए मैं लेट गयी। वो मेरी टांगो के बिच में बैठ गया और मेरी चूत को चाटने लगा। चुत से गरम गरम पानी निकल रहा था और वो बार बार चाट रहा था।

अब मैं उसको बोली जल्दी अपना लंड मेरी प्यासी चूत में डाल। उसने अपना लंड का सुपाड़ा मेरी चूत के बीचो बिच रखा और जोर से पेलने लगा। ओह्ह्ह्हह्ह पूरा लंड अंदर बाहर करने लगा जब जब वो धक्के देता मेरी दोनों चूचियां हिलती। मैं ओह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्ह उउउउ अअअअअ ओह्ह्ह्ह की आवाज निकालने लगी और वो मुझे चोदने लगा।

मैं उसको लिटा पर ऊपर चढ़ गयी। उसका मोटा लंड पकड़ कर अपनी चुत में ले ली और अंदर बाहर उछल उछल कर लेने लगी। वो लड़का तो पागल हो गया वो मुझे गालियां देने लगा माँ की चूत बहन की चूत और बार बार ये भी बोल रहा था की तुम तो अपनी बेटी से भी ज्यादा सेक्सी हो।

उसको तो दर्द होने लगता है और तुम हो की गांड गोल गोल घुमा घुमा कर ले रही हो मेरा पूरा लंड। मैं भी गाली देने लगी और चुदवाने लगी। उसने मुझे डेढ़ घंटे तक चोदा फिर जाकर मैं शांत हुई। तभी मेरी बेटी का फ़ोन आ गया की वो आधे घंटे में आ रही है। मैं तुरंत ही उस लड़के को बोली चल जल्दी निकल जा और भूलकर भी मेरी बेटी को हम दोनों के नाजायज रिश्तों के बारे में। और वो चला गया।

अब मैं उससे गांड मरवाने के बारे में सोच रही हूँ जल्द ही अपनी कहानी इस वेबसाइट पर यानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पर लिखने वाली हूँ। बस एक बार गांड मरवा लूँ उसका मोटा लौड़ा अपनी गांड में ले लूँ फिर आपको कहानी के माध्यम से बताउंगी।



Source link

0Shares

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *