Daily news update

Biwi Ki Chudai Dekhi – दोस्त की शादी में मेरी पत्नी का रण्डीपना

मैंने अपनी बीवी की चुदाई देखी. मेरे दोस्त की शादी में हम दोनों गए. मेरी बीवी की चूचियां आधे से ज्यादा दिख रही थी. उसने कैसे मेरे उसी दोस्त से अपनी चुदाई करवायी?

दोस्तो, मैं समीर एक बार फिर से आपके सामने अपनी चुदक्कड़ बीवी की सेक्स कहानी, जिसमें मैंने खुद अपनी बीवी की चुदाई देखी, लेकर हाजिर हूँ.

मेरी पिछली सेक्स कहानी
सेक्सी बीवी की स्कूटी शोरूम में सर्विसिंग
पर आप सबके मेल पढ़ कर बहुत अच्छा लगा. ये सेक्स कहानी उसी के बाद की कहानी है.

उस सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि मेरी बीवी श्रुति ने अपनी स्कूटी की सर्विस के बहाने सर्विस सेंटर के दो मर्दों से अपनी चुत और गांड चुदाई करवाने के बहाने अपने दोनों छेदों की मस्त सर्विस करवा ली थी.

उससे आगे कैसे मैंने अपनी बीवी की चुदाई देखी:

दूसरे दिन मेरी बीवी गैर मर्दों से ऐसे और ना चुदे, इसलिए मैं खुद जाकर गाड़ी ले आया था.
मेरी बीवी छिनाल ना बन जाए इसलिए मैं ये सब टाल रहा था.

कुछ दिन सब नॉर्मल रहा. श्रुति का शोरूम वाले सुरेश और अमन से सम्पर्क नहीं हुआ.
पर मेरे काम पर जाने के बाद शायद उसने अपनी चुत चुदायी करवा ली होगी … और मुझे पता नहीं लगने दिया होगा.

ये मैं भलीभांति समझ चुका था कि मेरी बीवी की चुत गांड की प्यास मेरे लंड से बुझने वाली नहीं है, वो पक्के में और मर्दों के लंड अपनी चुत गांड में पक्के में लेती होगी.

मैं अपनी बीवी को कुछ नहीं कहता था.
वो इसलिए क्योंकि यदि उसने मुझे मेरे मुँह पर कुछ सुना दिया तो मेरी बची-खुची इज्जत भी मिटटी में मिल जाने का खतरा था.

आज की इस सेक्स कहानी में आपको अपनी हरजाई बीवी की चुदाई की कहानी का एक और किस्सा सुना रहा हूँ, आनन्द लीजिएगा.

मेरी बीवी का रंडीपना बढ़ता ही जा रहा था.
मुझे भी उस पर हर पल शक होता कि वो फिर से किसी और के लंड से चुदेगी, इसलिए मैं उसपर नज़र रखे रहता था.

थोड़े दिन बाद मेरे एक करीबी दोस्त की शादी होनी थी. ये शादी एकदम साधारण तरीके से और कम लोगों की उपस्थिति में होनी थी.
इस शादी में सिर्फ़ पचास लोग बुलाए गए थे. हम दोनों भी इस शादी में जाने वाले थे.

उस दिन सुबह से मेरी बीवी माल की तरह बन-ठन कर बैठी थी.
उसने लाल रंग की नेट वाली साड़ी के साथ डीप नेक वाला ब्लाउज पहना हुआ था. इस ब्लाउज में से उसके लगभग साठ प्रतिशत दूध दिख रहे थे, सिर्फ़ निप्पल दिखना बाकी रह गए थे.

मैं अपनी बीवी का ये कामुक रूप देख कर एकदम से गर्मा गया.
लेकिन मुझे मालूम था कि अभी इसे हाथ लगाना भी सम्भव नहीं है.

इसलिए मैंने उसे आंखों से ही चोदा और बाथरूम में जाकर उसकी दो मर्दों से एक साथ चुदाई की याद करके मुठ मार ली.
लंड झड़ा कर चुसा सा चेहरा लेकर मैं बाहर आ गया.

मेरी बीवी ने मेरी तरफ देखा और आंख मार कर अश्लील भाव से मुस्कुरा दी.
मैं समझ गया कि इसने मेरी चेहरे का चुसापन देख कर जान लिया है कि मैं मुठ मार कर आया हूँ.

फिर हम दोनों शादी में शामिल होने के लिए निकल गए.

दोस्त के पास पहुंचने के बाद मैं उससे मिला और उसे हम दोनों ने शादी के लिए बधाई दी.

करीबी दोस्त होने के कारण मैं उसके साथ उसके कमरे में चला गया और बीवी बाकी औरतों में बैठ गयी.

मैं कमरे के अन्दर गया, तो देखा कि दूल्हा कुछ परेशान सा है.
मैंने पूछा- क्या हुआ?
तो वो बोला- यार मेकअप वाला नहीं आ पाया, उसका एक्सीडेंट हो गया है.

मैं मज़ाक़ में बोल पड़ा- बस्स इतनी सी बात … मेरी बीवी ने मेकअप करने का का कोर्स किया है … तू कहे तो उससे तेरा मेकअप करने को बोल दूं?

मेरी बात को उसने गम्भीरता से ले लिया और बोला- अच्छा हुआ भाबी सब जानती हैं. मैं कुछ सामान बैग में लाया हूँ. प्लीज़ भाभी से मेरा मेकअप करने बोल दो.

अब मैं फंस गया … पक्के दोस्त की शादी का मामला था, तो इस कारण से मैं भी उसे मना नहीं कर पाया.

मैंने बीवी को आवाज़ दी और उसे दोस्त की परेशानी बता दी.

वो बोली- मैं मेकअप करना जानती तो हूँ … पर मैंने आज़ तक किसी लड़के का मेकअप नहीं किया है.
दोस्त बोला- अरे भाबी … आज शादी का मैटर है … आपसे जैसा ठीक लगे … आप बस कर दो.

मेरी बीवी ने मेरी तरफ देखा, मैंने उसे हां में इशारा कर दिया.

बस मेरी बीवी ने मेरे दोस्त का मेकअप करना शुरू कर दिया.

उसने मेरे दोस्त के गालों पर क्रीम लगाना शुरू कर दिया. मैं उसी रूम में दोस्त के बाजू में बैठ गया.

काफी सारे लोग बार बार दूल्हे के रूम में आ-जा रहे थे तो मेरी नजरें बीवी की तरफ से हट गईं.

मैं मोबाइल में टाइम पास करने लगा और ये भूल गया कि मेरी बीवी माल की तरह सजकर आई है … तो मेरा दोस्त भी इसका मजा लेगा और मेरी बीवी पक्के में उसको लाइन देना शुरू कर देगी.
साली छिनाल शुरू ही हो गई थी.

कुछ देर बाद मुझे ध्यान आया तो मैंने दोस्त की तरफ देखा.
उसका लंड खड़ा हो गया था. मां के लौड़े का लंड मेरी बीवी के बोबे देख़कर खड़ा हो गया था.

मेरी बीवी भी अपने मम्मों को बिल्कुल उसके चेहरे पर लगा लगा कर उसका मेकअप कर रही थी.

ये बात आप खुद सोचिये कि एक खुले ब्लाउज में से कोई रांड किस्म की औरत अपने दूध किसी मर्द के चेहरे के करीब लाकर दिखाएगी तो उस मर्द का लंड खड़ा क्यों नहीं होगा.

खैर मेरी नज़र पड़ी तो मैंने देखा कि वो कुर्सी पर बैठा था और मेरी बीवी झुककर उसे अपने वश में करके एक हाथ उसकी जांघ पर रख कर … तो दूसरे हाथ से उसके गालों को मसल मसल टचअप कर रही थी.

मैंने सोचा कि दोस्त है … ये अपनी शादी में थोड़े ही कुछ ऐसा वैसा सोचगा.
हां उसका लंड खड़ा हो गया है, तो कुछ देर में अपने आप बैठ भी जाएगा.

तभी मुझे बाथरूम जाने की जरूरत महसूस हुई. तो मैं उठ कर बाथरूम में चला गया.

पर जैसे ही मैं वापस आने को हुआ तो मैंने देखा कि मेरी बीवी उसे किस कर रही थी और उसके लंड को पैंट के ऊपर से सहला रही थी.
मेरा दोस्त मेरी बीवी के बोबे दबाने में लगा था.

मैंने ये सब देखा और अनदेखा करके दरवाजे से अन्दर आ गया.
कमरे में आते हुए मैंने नीचे रखे एक पानी के गिलास को लात मार दी.
गिलास के गिरने की आवाज़ से दोनों दूर हट गए.

मैंने खुद के कपड़े ठीक करने का ऐसा नाटक किया जैसे मैंने कुछ देखा ही नहीं.

पर अब मुझे अपनी बीवी के पूरी रंडी हो जाने का अहसास हो गया कि ये साली लंड देखते ही चुत खोलने को रेडी हो जाने वाली रांड बन गई है.
अब तो मेरी बीवी को मेरा दोस्त भी ठोकेगा और मेरी बीवी की चुदाई की बात मेरी सारी मित्र मंडली में फैल जाएगी.
मुझे ऐसा डर लगा.

उसी समय दूल्हे के घर वाले और भाई उसे स्टेज पर ले जाने के लिए आ गए.

मैंने भी दोस्त से कहा- भाई कितना मेकअप थोपेगा … अपनी भाबी को भी शादी का मज़ा ले लेने दे.
वो मेरी बीवी को हंसते हुए देख कर बोला- मज़ा तो अभी बाकी है, आज मैं दूल्हा ना होता, तो मैं ही सारा मजा ले लेता.

उसकी बात पर मैं कुछ कह पाता कि वो उठ कर अपने घरवालों के साथ चला गया.

बीवी ने अपने बैग से लिपस्टिक निकाली और अपने चुसे हुए होंठों पर लाली लगा कर मेरे सामने अपनी गांड मटकाती हुई बाहर के लिए चल दी.

मैंने देखा कि साली को इतना कॉन्फीडेंस था कि मैंने उसे मस्ती करते देखा ही नहीं होगा.

वैसे भी मैं उसको एक साथ दो लोगों का लंड चूसते देख चुका था उसके सामने तो ये कुछ ही नहीं था.
आज मैं भी कहीं न कहीं अपनी बीवी की चुदाई की आदत देख कर रोमांचित था.

मैं भी बाहर आ गया.

मैंने देखा कि मेरी बीवी अपने पल्लू को काफी गिराए हुए बैठी थी और मेरा दोस्त स्टेज से अपनी होने वाली बीवी को छोड़ कर मेरी बीवी को ताड़े जा रहा था.

श्रुति भी उसे आंखों से इशारे करते हुए अपनी नेट की साड़ी से अन्दर दिखने वाले बोबे दिखा रही थी.

कुछ देर बाद मेरी बीवी मेरे बाजू से उठ कर महिलाओं में चली गई.

शादी की रस्म खत्म होने के बाद दूल्हे को कपड़े बदल कर वापस फेरों के लिए तैयार होना था, तो वो अपने रूम में चला गया.

मैंने बीवी को देखा, तो वो शादी वाले हॉल में दिखायी ही नहीं दी. मैंने सोचा कि वो दूल्हे के रूम में उसका मेकअप करने गई होगी.

मैं मेहमानों में व्यस्त हो गया था.
पांच मिनट बाद मैं रूम की ओर जाने लगा.
रूम अन्दर से बंद था.

मैंने दरवाजे से आवाज़ दी, तो दोस्त बोला- थोड़ी देर बाहर ही रूक … मैं चेंज कर रहा हूँ.
मैं फिर से बोला- तू खोल न … कौन सा आज तुझे पहली बार नंगा देख रहा हूँ.

उसने आधा दरवाजा खोला और अन्दर से ही सर निकाल कर बोला- थोड़ा रुको … ज़रा जरूरी काम कर रहा हूँ.

शायद दरवाज़े के पीछे मेरी बीवी के मुँह में उसका लंड था. ये उसके चेहरे से साफ़ नजर आ रहा था कि वो लंड चुसवाने का मजा ले रहा है.

अब मुझे बेचैनी होने लगी कि मैं भी अपनी बीवी की चुदाई देखूं.
इसलिए मैंने दोस्त से कहा- ओके, जल्दी कर यार.

उसने भी हां कहा और दरवाजा बंद कर दिया.

मैंने कमरे के पीछे की तरफ चला गया. उधर झाड़ियां थी. एक खिड़की भी थी.

मैंने किसी तरह से खिड़की में से झांक कर देखा कि मेरी बीवी दरवाज़े के बग़ल में झुककर अपने घुटनों के बल बैठी थी और दूल्हा बना मेरा दोस्त फर्श पर लेट कर उसके मुँह में लंड दिए चुसवा रहा था.
साथ ही वो मेरी बीवी की चुत में अपनी जीभ डाल रहा था.

ऐसा पांच मिनट चला, फिर वो खड़ा हो गया और मेरी बीवी के पीछे से उसे चोदने की पोजीशन बनाने लगा.

मेरी बीवी श्रुति ने टांगें फैला दीं और दोस्त ने अपना लौड़ा बीवी की चुत में पेल दिया.
वो उसे धकापेल चोदने लगा.
श्रुति उत्तेजित होते हुए ‘आ हह … स्स्स्स्स आह ..’ की सिसकारियां भरने लगी.

मैं बीवी की चुदाई में दोस्त का लंड देख कर चौंक गया.
साले का लंड बहुत मोटा और लम्बा था. मेरे हाथ की कलायी जैसा मूसल सा लंड था.

जब उसने अन्दर लंड चुत में डाला तब श्रुति की चीख निकल पड़ी थी.
कुछ देर बाद श्रुति ने लंड जज्ब कर लिया और चुत चुदाई का मजा लेने लगी.

दोस्त मेरी बीवी को चोदते हुए उससे बोला- शादी में अपनी बीवी को छोड़ कर तेरी गुलाबी चुत याद आएगी भाभी!
इस पर मेरी बीवी गांड हिलाते हुए हंसकर बोली- सिर्फ़ शादी में ही नहीं, मैं तुम्हारे हनीमून में भी साथ चलूँगी. तभी तो तेरा घोड़े जैसा लंड मुझे मिलेगा.

दोस्त ने लंड अन्दर जड़ तक पेलते हुए कहा- साली भाभी, तेरा पति बाहर तेरी चुदाई पर पहरा दे रहा है.
श्रुति बोली- उसको तो यही करना चाहिए … मेरी मस्त चुत का पहरेदार है वो … और तू मेरा कस्टमर.
ये कह कर श्रुति हंस पड़ी.

दोस्त बोला- मतलब वो तेरा दल्ला है क्या?
श्रुति बोली- वो इससे ज्यादा और कुछ है भी नहीं … तू उसकी छोड़, मेरी चुत में ध्यान लगा.
ये कहते हुए उन दोनों ने पोज बदल लिया.

अब मेरी बीवी उसके ऊपर 69 के पोज में आ गयी. बीवी ने उसका लंड चूसना चालू कर दिया. दोस्त से वो अपनी गांड चुत चाटने को बोली.

श्रुति ने लंड पर इतना ज्यादा थूका कि वो पीछे से उसकी गांड में पेल सके.
फिर वो गांड हिलाती हुई पलट गई और दोस्त के लंड के ऊपर आकर अपने हाथ से लंड को गांड पर सैट करके धच्च से बैठ गयी.

इतना मोटा लंड गांड में घुसने से उस रांड को तो जैसे जन्नत का सुख मिल गया हो, उसके चेहरे से ऐसा लगने लगा था.

फिर थोड़ी देर तक गांड मरवाने बाद बाहर से किसी की आवाज आयी.
शायद फेरों में देरी होने की वजह से कोई बुला रहा था.

उसने ‘आता हूँ ..’ कहके चुदाई की तरफ फिर से ध्यान लगा दिया.
दोस्त ने श्रुति को घोड़ी बना दिया और पीछे से उसकी चुत में लंड पेल कर जोर जोर से चुत चोदने लगा.

दोस्त बोला- पहला बच्चा तुझे दूँगा फिर होने वाली बीवी को!

दस मिनट ज़ोरों से चोदने बाद मेरा दोस्त मेरी बीवी की चुत में ही झड़ गया.
फिर श्रुति के मुँह में लंड देकर साफ़ करवाने लगा.

चुदाई खत्म हो गई थी तो दोस्त ने कपड़े ठीक किए और मेकअप का नाटक करते हुए दरवाजा खोल दिया.

अब तक मैं भी आगे आ गया था. इस तरह से मैंने अपनी बीवी की चुदाई देखी.

दोस्त मुझे देख कर बोला- भाबी वाकयी बहुत अच्छा मेकअप करती हैं यार … घरवाले फंक्शन पर भाभी को ही भेज देना.

वो मेरे सामने श्रुति को आंख मारते हुए चला गया.
श्रुति भी मुस्कुरा दी.
शायद वो मुझे दुनिया का सबसे चूतिया पति मान रही थी.

फिर शादी निपटा कर हम दोनों घर आ गए.
मेरा चुदायी का मूड था पर श्रुति सरदर्द का बहाना बना कर सो गयी.

इसके बाद, मेरी बीवी और दोस्त दोनों बहुत बार मिले और उन दोनों ने मेरे ही घर में, मेरे ही बेड पर चुदायी भी की.
वो सब मैं आगे एक सेक्स कहानी में बताऊंगा.

आपको मेरी सेक्स कहानी पसंद आयी होगी, मेल और कमेंट्स ज़रूर करें.
[email protected]

0Shares

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *